SERAJ ANWAR

PATNA:हिना शहाब ने राजद का टेंशन बढ़ा दिया है.सिवान की सरहद लांघ कर पहली बार वह बिहार के दौरे पर निकलीं हैं.जगह-जगह उनका स्वागत हो रहा है.पांच सौ गाड़ियों से चल रहीं हिना शहाब,जेसीबी से बरसाये जा रहे हैं फूल,समर्थकों में ज़बरदस्त उत्साह है.

पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के इंतेक़ाल और इस दौरान काफी राजनीतिक उतार-चढ़ाव के बाद उनकी पत्नी हिना शहाब पहली बार सिवान की सरहद को लांघ कर मिथलांचल में क़दम रखने जा रही हैं.उनका यह क़ाफ़िला छह ज़िलों सिवान,गोपालगंज,मोतिहारी,मुज़फ़्फ़रपुर,समस्तिपूर और दरभंगा को टच करता हुआ बढ़ रहा है.अभी वह मुज़फ़्फ़रपुर पहुंच रही हैं.जहां-जहां रुक रही हैं,समर्थकों और गाड़ियों का क़ाफ़िला बढ़ता जा रहा है.

हालांकि,हिना शहाब दरभंगा के मुरिया में ऑल इंडिया बेदारी कारवां के बैनर तले आयोजित क़ौमी एकता कॉन्फ़्रेन्स एवं ऑल इंडिया मुशायरा में शामिल होने पहुंच रही हैं.लेकिन,रूटचार्ट इतना ज़बरदस्त तैयार किया गया है कि उनके इस दौरे से सिवान, दरभंगा सहित छह ज़िलों की राजनीति पर इसका असर पड़ना तय है.मालूम हो कि मोहम्मद शहाबुद्दीन घराना का लालू परिवार से तल्ख़ रिश्ता चल रहा है.हिना शहाब के बेटे ओसामा जेल में है.महागठबंधन सरकार और ख़ास कर राजद पर आरोप है कि ओसामा को फंसाया गया है.आज जब मोहम्मद शहाबुद्दीन इस दुनिया में नहीं हैं,बेटा ओसामा जेल में है.हिना शहाब का यह कार्यक्रम लिटमस टेस्ट के रूप में है.जिस तरह से उनका स्वागत हो रहा है,ऐसा लगता है कि साहेब(मोहम्मद शहाबुद्दीन)का तिलिस्म बरक़रार है.

हिना शहाब का यह दौरा निश्चित रूप से राजद का टेंशन बढ़ायेगा.चिराग़ पासवान अपनी पार्टी से उन्हें लोकसभा चुनाव लड़ाना चाहते हैं,जबकि प्रशांत किशोर निर्दलीय लड़ने पर हिना शहाब को समर्थन देने को तैयार हैं.हिना शहाब का लोकसभा चुनाव लड़ना तय है.इस दौरे के बाद लालू परिवार हिना शहाब के दर पहुंच जायें तो हैरत वाली बात नहीं होगी.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.