मंथन डेस्क

PATNA:जदयू के प्रदेश महासचिव मेजर इक़बाल हैदर खान ने पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव में सेंट्रल पैनल में जदयू छात्र संगठन के दबदबा को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के राष्ट्रीय राजनीति में दबदबा का आग़ाज़ बताया है.उन्होंने जदयू के सभी छात्र नेताओं को जीत की हार्दिक बधाई दी है.मेजर इक़बाल ने कहा कि अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, संयुक्त सचिव और कोषाध्यक्ष पद पर छात्र जदयू का परचम लहराना नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार की शिक्षा नीति की स्वीकार्यता है.छात्रों ने जदयू प्रत्याशियों को सेंट्रल पैनल में भेज कर बताया है कि सरकार की शिक्षा नीति से ख़ुश हैं.

मेजर इक़बाल कहते हैं कि नीतीश कुमार जी ने शिक्षा को आसान बनाने केलिए कई पहल की है.उनका शिक्षा पर ज़ोर है.शांतिपूर्ण माहौल में शिक्षा व्यवस्था की बेहतरी के लिए सरकार स्टूडेंट के लिए कई योजना चला रही है.’आर्थिक हल-युवाओं का बल’के तहत सरकार के सात निश्चय में से पहला निश्चय स्टूडेंट्स से संबंधित था. 12वीं कक्षा से आगे पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए सरकार ने स्टूडेंट्स क्रेडिट कार्ड की शुरुआत की . इसमें 12वीं कक्षा से आगे पढ़ने वाले छात्रों को चार लाख रुपये का शिक्षा ऋण मात्र 2 फीसदी के ब्याज पर दिया जा रहा है.. इस ऋण में सरकार ही बैंक में गारेंटर भी बनी है.

सरकार की सफल योजनाओं पर पटना यूनिवर्सिटी के छात्राओं ने मुहर लगा दी है कि नीतीश सरकार की शिक्षा नीति से वह ख़ुश हैं.छात्र जदयू ने सभी पदों पर भाजपा समर्थित एबीवीपी के प्रत्याशियों को पराजित किया है.जो साबित करता है कि भाजपा से लड़ाई आर-पार की है और नीतीश कुमार ही राष्ट्र के इकलौते नेता हैं जिन्हें देश उम्मीद भरी नज़रों से देख रहा है.भाजपा से नाता तोड़ने के बाद पटना यूनिवर्सिटी की यह जीत बताता है कि बिहार में नफ़रत के लिए कोई जगह नहीं है.सद्भावना से ही देश आगे बढ़ेगा और उसका नेतृत्व नीतीश कुमार कर रहे हैं.अब देश की जनता उन्हें प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहती है.देश की प्रतिष्ठित पटना यूनिवर्सिटी ने एबीवीपी(भाजपा)का सफ़ाया कर संदेश दे दिया है कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन ही चलेगा.यह जीत महागठबंधन की भी है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.