पटना/मंथन डेस्क

ऑल मदरसा युवा शिक्षक संघ बिहार के चीफ़ एडिटर मौलाना तौक़ीर अहमद मिसबाही ने बिहार स्टेट मदरसा एजुकेशन बोर्ड के पूर्व चेयरमैन अब्दुल क़य्यूम अंसारी पर निशाना साधा है तथा उनके द्वारा भ्रष्टाचार मामले में क़ानूनी कारवाई कर सरकार से सख़्त सज़ा देने की मांग की है. उन्होंने कहा है कि अब्दुल क़य्यूम अंसारी के द्वारा तीन वर्षों तक मदरसा बोर्ड के 1981 एक्ट का उल्लंघन होता रहा बावजूद इसके कोई लगाम नहीं लगाया जा सका.यहां तक की मदरसा बोर्ड के सदस्यगण भी इस पर शिकंजा कसने में बुरी तरह नाकाम रहे.तीन साल तक बोर्ड की बैठक के बेग़ैर करोड़ों की राशि की निकासी की जाती रही और सभी अनियमितता के खेल में मूक दर्शक बने रहे.

मौलाना मिसबाही बताते हैं कि भ्रष्टाचार की शिकायत पर शिक्षा विभाग ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया.जिसने स्पष्ट रूप से कहा कि बोर्ड में भ्रष्टाचार बड़े पैमाने पर चल रही है.इसके बावजूद अब्दुल क़य्यूम अंसारी के कार्यकाल को पूरा कराना आश्चर्यजनक है और आज तीन महीने होने को है बावजूद पूर्व चेयरमैन के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की गयी है.जिससे पता चलता है कि सारे कारनामे के पीछे कोई बड़ा हाथ है.इसलिए हमारी सरकार से मांग है कि अविलम्ब पूर्व चेयरमैन के ख़िलाफ़ क़ानूनी कारवाई कर उसे सख़्त सज़ा दी जाये.

One thought on “ऑल मदरसा युवा शिक्षक संघ की मांग;अब्दुल क़य्यूम अंसारी को मिले सख़्त सज़ा,मदरसा बोर्ड में किया बड़ा भ्रष्टाचार”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *