मंथन डेस्क

GAYA:विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर ग्लोबल इंग्लिश सेन्टर में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर वक्ताओं ने पर्यावरण संरक्षण के विषय पर अपने अपने विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित डाॅ विद्या ज्योति ने नारी उत्थान के विषय पर बोलते हुए कहा कि पुरुष वर्चस्वादी समाज में महिलाओं के बराबरी के अधिकार को मज़बूती के साथ रखा तथा छात्राओं को कठिन परिश्रम का पाठ भी पढ़ाया। छात्रा शाज़िया ने अंग्रेज़ी भाषा की महत्ता को रेखांकित किया। कार्यक्रम के जुड़े होप फाउंडेशन के राष्ट्रीय सचिव शौकत अली ने पर्यावरण संरक्षण को लेकर किए जा रहे प्रयासों को इंगित किया तथा संस्थान के संचालक वसीम ख़ान की भूमिका की सराहना की।

आपदा प्रबंधन पर पिछले कई वर्षों से सक्रिय शादाब अनवर ने विश्व पर्यावरण दिवस की शुरुआत तथा इसके महत्व पर प्रकाश डालते हुए बताया कि सौर परिवार का नरक कहे जाना वाला शुक्र ग्रह हमेशा से ऐसा नहीं था तथा अगर पृथ्वी पर बढ़ते कार्बन उत्सर्जन को नियंत्रित नहीं किया गया तो फिर पृथ्वी का भी अंजाम शुक्र ग्रह जैसा ही होने का ख़तरा मंडरा रहा है। हमारे पास केवल एक ही पृथ्वी है। अतिथि के रूप में मौजूद इमरान अली ने केवल वृक्षारोपण करके इतिश्री कर लेने की परंपरा पर चोट करते हुए इस बात पर बल दिया कि वृक्षों को बचाया जाना भी महत्वपूर्ण है।कार्यक्रम का संचालन वसीम ख़ान ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *