जब पार्टी खुद मान रही है कि ‘आपने साम्प्रदायिक सद्भावना भड़काने का काम किया है तो उसके विरुद्ध एनएसए क्यों नहीं लगना चाहिए’?इन नेताओं के भड़काव बयान से ही कानपुर में बवाल हुआ.बुलडोज़र तो नूपुर और जिंदल के घर पर चलना चाहिए.

मंथन डेस्क

PATNA:जनता दल राष्ट्रवादी ने मांग की है कि नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल पर नेशनल सिक्योरिटी एक्ट लगा कर तुरंत जेल भेजना चाहिये.जेडीआर के राष्ट्रीय संयोजक अशफाक़ रहमान का कहना है कि पार्टी से निष्कासन भाजपा नेताओं को क्लीन चिट देना हुआ.

मुसलमान किसी भी क़ीमत पर पैग़म्बर मोहम्मद(सअव)का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकता.मुसलमान ही क्यों ग़ैरमुस्लिम भी उनकी शख़्सियत का उतना ही सम्मान करते हैं.हमें एक दूसरे के मज़हब की अवहेलना नहीं करनी चाहिए.


अशफ़ाक़ रहमान कहते हैं कि एक पत्थर चलने,कोई मामूली बयान आने पर मुसलमानों को फौरी गिरफ़्तार कर लिया जाता है,एनएसए लगा दिया जाता है,बुलडोज़र चलने लगता है,घर उजाड़े जाते हैं,सम्पति ज़ब्त की जाती है और जिसके बयान से विश्व भर में भारत का नाम बदनाम हुआ.देश भर में तनाव है उसे सिर्फ निष्कासित कर खानापूर्ति की गयी है.हमारी मांग है कि दोनों पर एनएसए लगा कर तुरंत गिरफ़्तार कर सलाखों के पीछे डालना चाहिए.मुसलमान किसी भी क़ीमत पर पैग़म्बर मोहम्मद(सअव)का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकता.मुसलमान ही क्यों ग़ैरमुस्लिम भी उनकी शख़्सियत का उतना ही सम्मान करते हैं.हमें एक दूसरे के मज़हब की अवहेलना नहीं करनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *