बेगूसराय/कौनैन अली

जिला पदाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने जिले में पंचायत आम निर्वाचन-2021 के निष्पक्ष, स्वतंत्र, पारदर्शी एवं स्वच्छ आयोजन सुनिश्चित करने के उद्देश्य से द्वितीय चरण (भगवानपुर प्रखंड) तृतीय चरण (वीरपुर एवं डंडारी प्रखंड एवं चतुर्थ चरण (खोदावंदपुर एवं नावकोठी प्रखंड) के लिए प्रतिनियुक्त सेक्टर पदाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को आज दिनकर कला भवन में संयुक्त रूप से संबोधित कर उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश दिया। इस अवसर पर जिला पंचायती राज पदाधिकारी मुकेश कुमार सिन्हा, विधि-व्यवस्था कोषांग के नोडल पदाधिकारी सच्चिदानंद सुमन, आदर्श आचार संहिता कोषांग के नोडल पदाधिकारी संजीत कुमार, जिला जन संपर्क पदाधिकारी भुवन कुमार सहित सभी संबंधित सेक्टर पदाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे।

इस अवसर पर जिला पदाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने सभी सेक्टर पदाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जिला प्रशासन पंचायत आम निर्वाचन-2021 के लिए निर्धारित विभिन्न चरणों में निर्वाचन कार्यों को शांतिपूर्ण ढंग से संपादन के लिए प्रतिबद्ध है तथा इसके लिए आवश्यक है कि निर्वाचन कार्यों में संलग्न सभी पदाधिकारी अपने-अपने उत्तरदायित्वों तथा कर्तव्यों का शत-प्रतिशत अनुपालन करना सुनिश्चित करें। अधिकारीद्वय ने प्रतिनियुक्त सेक्टर दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को उनके निर्धारित दायित्वों से अवगत कराते हुए कहा कि निर्वाचन पूर्व विभिन्न तैयारियों को वास्तविक रूप से पूर्ण करने में सेक्टर दंडाधिकारियों की अहम भूमिका होती है।

इसलिए सभी पदाधिकारी अपने निर्धारित दायित्वों यथा अपने-अपने क्षेत्रों के अंतर्गत मतदान केंद्र तक पहुंच पर्थो का निरीक्षण कर संबंधित पदाधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुए आवश्यक कार्रवाई करना, मतदान केंद्रों भवन पर पंचायत का नाम तथा मतदान केंद्र संख्या का अंकन, मतदान केंद्रों पर बेसिक मिनिमम फैसिलिटी (बीएमएफ) यथा पेयजल, शेड, रैंप, शौचालय आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करना, नए बने मतदान केंद्रों का प्रचार-प्रसार करना, मतदान केंद्रों पर फोन नेटवर्क की स्थिति की जांच करना, अनाधिकृत वाहनों, अनाधिकृत प्रचार-प्रसार, सरकारी भवनों के दुरुपयोग सहित आदर्श आचार संहिता से संबंधित पहलुओं के उल्लंघन पर नजर रखना. मतदान क्षेत्र में ई.वी.एम. जागरूकता के तहत वोटरों को ई.वी.एम. के प्रति जागरूकता का प्रसार करना मतदाताओं को मतदान केंद्र की अवस्थिति की जानकारी देना, मतदाताओं को अपना नाम निर्वाचक सूची में होने संबंधी जांच बी.एल.ओं के माध्यम से करने हेतु सूचित करना, भेट्य समूह क्षेत्रों में लगातार भ्रमणशील रहना तथा आवश्यक जानकारियां एकत्रित करना, कमजोर वर्ग के मतदाता को डराने/ धमकाने वाले गांव/टोला चिन्हित करना, कमजोर वर्ग के मतदाता को चिन्हित कर गांव एवं टोला का नक्शा तैयार करना, भेदय पैदा करने वाले व्यक्तियों के संबंध में सूचनाएं एकत्रित करना, भेदय समूह के लोगों को स्वतंत्रतापूर्वक निर्भीक होकर मतदान कराने हेतु उचित व्यवस्था सुनिश्चित करना आदि जैसे कार्यों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *