बेगूसराय/कौनैन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सपनों का बिहार बनाने में जदयू कार्यकर्ताओं का अहम योगदान है.सरकार भी जनमानस की समस्याओं का निदान कराने के लिए कई जनकल्याणकारी योजनाओं को आमजनता के बीच पहुंचाने का कार्य किया है.सरकार और जनता के बीच की कड़ी वास्तव में कार्यकर्ता ही है.उक्त बातें बुधवार को शाहपुर पंचायत के जगदीशपुर में जदयू नेता और कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए मटिहानी विधायक राजकुमार सिंह ने कही.उन्होंने कहा कि मटिहानी विधानसभा क्षेत्र में विकास की टुटी हुई कड़ियों को फिर से जोड़ने का प्रयास किया जाएगा.कार्यकर्ताओं का आत्म सम्मान की रक्षा के साथ संगठन विस्तार पर उनका विशेष ध्यान केंद्रित है.कार्यकर्ताओं को आगाह किया कि सरकार के महत्वाकांक्षी योजना को जनजन तक पहुंचाने का कार्य करें.वही जदयू जिला अध्यक्ष रूदल राय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जे पी, लोहिया के विचारों को आत्मसात कर बिहार में विकास की गंगा बहा रहे हैं.2005 में जब प्रथम बार नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री पद का शपथ लिया था,उस समय बिहार का बजट मात्र 24 हजार करोड़ का था.आज बिहार का बजट दो लाख 18 हजार करोड़ का है.जदयू जिला समाज सुधार वाहिनी की अध्यक्ष पूर्व सदर प्रखंड प्रमुख रीता सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महिलासशक्तिकरण पर अहम कार्य किया है.इसी का प्रतिफल है कि महिला हर क्षेत्र में अपना योगदान प्रस्तुत कर रही है.मुख्यमंत्री साइकिल, पोशाक, छात्रवृत्ति, किशोरी स्वास्थ्य योजना का लाभ हर वर्ग के बच्चों को मिल रहा है.आज सुदूर गांव देहात के बच्चे भी उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं और देश-प्रदेश में अपना नाम रौशन कर रहे हैं.वास्तव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महिलाओं को जगाने का कार्य किया है.वही ग्रामीणों ने गांव और वार्डो की समस्याओं से विधायक को रूबरू कराया.विधायक ने भी समस्याओं के निदान करने का आश्वासन दिया.बैठक की अध्यक्षता शाहपुर पंचायत के जदयू अध्यक्ष प्रभात रंजन और मंच संचालन रामनरेश राय ने की.बैठक को महिला प्रदेश महासचिव अनिता मिश्रा, खगड़िया लोकसभा प्रभारी रामविनय सिंह,सदर प्रखंड अध्यक्ष पांडव कुमार,पूर्व अध्यक्ष रामराज महतों, अवध शर्मा, अरुण राय, पवन राय, अनिल ठाकुर,रविन्द्र सिंह, मनोज सिंह,रामसंजय सिंह, मीडिया सेल के कुंदन कुमार पिंटू, बीरेन्द्र कुमार पटेल रामकल्याण राय, उमाकांत राय आदि ने संबोधन किया और अपने विचारों को रखा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *