बिहारशरीफ/डॉ अरुण कुमार मयंक


पटना जिला से गंगा का पानी मोकामा टाल होते हुए नालन्दा जिला के सुदूरवर्ती प्रखंड सरमेरा पहुंच रहा है. यहां बाढ़ का पानी त्राहिमाम किए हुए हैं. सरमेरा में मजबूत रिंग बांध टूटने के कगार पर है. पानी में अत्यधिक बहाव के कारण काफी तेज धारा है. पचासों गांवों की खेतों में लगे सैकड़ों हेक्टेयर फसल का नुकसान हो चुका है. इन गांवों के मवेशी सड़क पर आ चुके हैं. उनके चारे की भी भीषण समस्या उत्पन्न हो चुकी है.


नालन्दा के सांसद कौशलेंद्र कुमार आज ग्रामीणों की शिकायत पर जिला के सरमेरा प्रखंड पहुंचे. यह जानकारी जदयू के जिला प्रवक्ता शशिकान्त कुमार टोनी ने दी. उन्होंने बताया कि इसुआ, ससौर, पेंदी, सदहा, हुसैना पंचायत के ग्रामीणों ने मिलकर सांसद को अपनी समस्याओं से अवगत कराया. सांसद श्री कुमार ने नालन्दा के जिलाधिकारी एवं सिंचाई विभाग के कार्यपालक अभियंता से फोन पर बात कर बाढ़ग्रस्त ग्रामीणों की उक्त समस्या से अवगत कराया.


सांसद ने कहा है कि रिंग बांध को बचाने का प्रयास युद्ध स्तर पर जारी हो गया है. कई हजार बोड़े मंगवाए जा रहे हैं, ताकि बांध को बचाया जा सके. आम जन को कोई समस्या ना हो और अगर समस्या हो तो त्वरित निष्पादन किया जाए. इसके लिए सांसद श्री कुमार ने सरमेरा के अंचलाधिकारी और प्रखंड विकास पदाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए.
इसके बाद सांसद कौशलेंद्र कुमार ने दिवंगत जदयू कार्यकर्ता संतोष कुमार के परिवार से मिल कर उन्हें सांत्वना दिए एवं जदयू कार्यकर्ता महेश चौधरी की मां के ब्रह्मभोज में शामिल हो कर पुण्य आत्मा को नमन किया.


इस अवसर पर सरमेरा प्रखंड जदयू के अध्यक्ष विजय प्रसाद, सुनील कुमार, मो कमाल अनवर, उपेंद्र प्रसाद, अरुण कुमार, श्रीकांत प्रसाद, श्याम सुन्दर प्रसाद उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *