गया/मंथन डेस्क

गया में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कैश काउंटर से 5.42 लाख रुपये उड़ाए, दो युवकों ने दिया वारदात को अंजाम, सीसीटीवी में कैद हुई घटना

गया जिले में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कैश काउंटर से गुरुवार को एक बजे दो युवक 5. 42 लाख रुपये उड़ा ले गए. इसकी जानकारी लोगों को तब हुई जब कैश जमा कराने आए पेट्रोल पंप कर्मी को बैग नहीं मिला.

कर्मी बैग को कैश काउंटर के अंदर रख मैनेजर से मिलने गया. सीसीटीवी फुटेज में एक युवक ने बैग उठाया व बाइक सवार साथी के साथ भाग निकला. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान हो रही है.

पेट्रोल पंप के कर्मचारी को भी हिरासत में ले लिया गया है. विशाल पेट्रोल पंप का कर्मी योगेंद्र शर्मा कैश लेकर बैंक में जमा कराने आया था. वह कैश काउंटर के अंदर गया, वहां उसे कोई स्टाफ नहीं दिखा. इस बीच उसे पता चला कि आज कैश जमा नहीं होगा, क्योंकि सारे बैंक कर्मी पंचायत चुनाव की ट्रेनिंग में गए हैं.

इस बात की जानकारी लगते ही योगेंद्र कैश काउंटर के अंदर पड़ी कुर्सी पर रुपये से भरे बैग को छोड़ बैंक मैनेजर रवि राजपूत से मिलने चला गया. साथ ही बैंक मैनेजर के पास से ही उसने पेट्रोल पंप के मालिक को सूचना दी कि आज पैसा जमा नहीं हो सकता है.

इसके बाद वह जब वापस बैग लेने के लिए कैश काउंटर पहुंचा तो रुपये से भरा बैग नहीं मिला. इस पर उसने बैंक परिसर में शोर मचाया. उसने इस घटना की सूचना बैंक प्रबंधक, पेट्रोल पंप के मालिक व पुलिस को दी.

इधर, सीसीटीवी की जांच की गई तो पता चला कि पल्सर बाइक से दो लड़के बैंक आए थे. एक युवक बैंक के बाहर ही बाइक पर बैठा था जबकि दूसरा अंदर आया. वहीं, युवक कैश काउंटर के अंदर भी घुसा और बैग को लेकर वहां से चला गया.

दोनों ही युवक लाल रंग की टी शर्ट पहने थे. स्टाफ के कम होने से गुरुवार को बैंक मैनेजर रवि राजपूत ने ही खोला था. बैंक मैनेजर रवि का कहना है कि आठ कर्मचारी में से 4 इलेक्शन ट्रेनिंग में गए हैं. इससे कैश लेने का काम रोक दिया गया है. उन्होंने बताया कि जो रेगुलर व बड़े ग्राहक होते हैं, उनके कर्मी सीधे कैश काउंटर के अंदर जाते हैं व स्लिप और कैश जमाकर चले जाते हैं. ऐसी छूट बैंक बड़े कारोबारियों को देता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *