जदयू में ‘विवाद’ को हंसी में उड़ा रहे सीएम नीतीश कुमार, कहा- क्या कोई शक्ति परीक्षण करेगा ? यह सब बेकार बात है, हमें तो हंसी आती है…

पटना/कमला कान्त पांडेय

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज जनता के दरबार में हाजिर हैं. जनता दरबार के बाद सीएम नीतीश ने कहा कि जातीय जनगणना को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी को हमने पत्र लिखा था. उस पत्र का जवाब हमें 13 अगस्त को ही मिल गया. प्रधानमंत्री की तरफ से कहा गया कि आपका पत्र हमें मिला है. अब हम इंंतजार करेंगे. वहीं जदयू के भीतर मतभेद पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कहीं कोई विवाद नहीं है. हमारे दल में कोई शक्ति परीक्षण नहीं हो रहा है.

सीएम नीतीश कुमार ने जदयू में शक्ति परीक्षण पर कहा कि यह फालतू बात है. जदयू में क्या चीज है जो शक्ति परीक्षण करेगा? कोई जदयू के अध्यक्ष बने तो उनका स्वागत हुआ. कोई केंद्रीय मंत्री बने तो उनका स्वागत हो रहा. समाचार देख कर हमे हंसी आती है. जदयू में कोई बात नहीं है मतभेद का. कोई भ्रम में न रहे, पार्टी में सबकुछ ठीक है.


जातीय जनगणना के सवाल पर उन्होंने कहा कि जब प्रधानमंत्री ने कह दिया कि आपका पत्र मिला. ऐसे में हम इंतजार करेंगे. जब वे टाईम देंगे तो जायेंगे मिलने. अभी तो वेट करना पड़ेगा. जब तक आगे कुछ नहीं होता है तब तक हम कोई नई बात नहीं कहेंगे. उम्मीद है कि समय मिलेगा. पहले प्रधानमंत्री से बात हो जाएगी तब न कुछ होगा. हमलोग तो चाहते हैं कि जातिगत जनगणना हो जाए. लेकिन करना है तो केंद्र सरकार को ही. एक बार अगर जनगणना हो जाती है तो बहुत अच्छा रहेगा. जहां तक राज्य सरकार द्वारा जातिगत जनगणना कराने की बात है तो पहले केंद्र सरकार से बात हो जाए उसके बाद ही कोई निर्णय होगा. इस संबंध में पहले कैसे कोई बातचीत होगी? सीएम नीतीश ने कहा कि वैसे सब लोगों के मन में ये बात है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *