मधुबनी/करीमुल्लाह

बकरीद पर्व को लेकर बासोपट्टी थाना परिसर में शांति समिति की हुई बैठक में कोरोना गाइडलाइन का पालन करने का थानाध्यक्ष ने अपील की है.पर्व के दिन चप्पे चप्पे पर पुलिस की पैनी नजर रहेगी.शांति समिति की बैठक में सीओ,थानाध्यक्ष व दोनों समुदायों के बुद्धिजीवियों की मौजूदगी रही.मधुबनी जिले के बासोपट्टी थाना परिसर में बकरीद पर्व को लेकर शांति समिती का बैठक थानाध्यक्ष अरविंद कुमार की अध्यक्षता में हुई.उक्त बैठक में मुस्लिम संगठनों के प्रतिनिधियों को कोरोना महामारी के गाइडलाइन का पालन करने का निर्देश दिया गया.साथ ही बुद्धिजीवियों और संगठन के लोगों से अपील की गई कि लोगों को भी अपने-अपने घरों में इबादत करने के लिए अपने स्तर से जागरूक करें, ताकि कोरोना संक्रमण के खतरे से बचा जा सके.
इस अवसर पर थाना अध्यक्ष ने दोनों समुदाय से कहा कि बकरीद पर्व आपसी भाईचारे और साम्प्रदायिक, सद्भाव व सौहार्द का प्रतीक है.इसलिए खुशी व शांतिपूर्ण माहौल में पर्व को मनाना चाहिए, जिससे सामाजिक सौहार्द बना रहे.उन्होंने कहा कि पर्व के दिन हर जगह प्रशासन की पैनी नजर रहेगी.विधि व्यवस्था भंग करने वाले असामाजिक तत्त्वों को बख्शा नहीं जाएगा.


वहीं सीओ सौरभ कुमार ने कहा कि कोरोना वायरस के मद्देनजर राज्य सरकार द्वारा धार्मिक आयोजन नहीं करने का निर्देश है.उन्होंने मुस्लिम बुद्धिजीवियों और धार्मिक संगठनों से अपील करते हुए कहा कि ईदगाह के बजाय अपने-अपने घरों में नमाज पढ़ें,जिस पर मुस्लिम बुद्धिजीवियों और संगठनों ने अपनी सहमति दी.उन्होंने कहा कि त्यौहार के दौरान साफ-सफाई के साथ-साथ सांप्रदायिक सौहार्द का भी ख्याल रखें.दूसरे समुदायों की भावनाओं का ख्याल रखते हुए सौहार्दपूर्ण वातावरण में त्यौहार मनाएं.
इस मौके पर एसआई सुरेश प्रसाद, एएसआई नन्द कुमार सिंह, किशोर कुमार, डामू मुखिया, अनिशुल अंसारी, सूर्य नारायण यादव, मो० ऐनुल हक, मो मुरतना, गंगा प्रसाद यादव, रामकुमार महतो, योगेंद्र मंडल, देव कुमार भारती, मो० सफीर अंसारी, चिरंजीव पांडेय, राम सुंदर साफि, पवन पांडेय समेत दोनों समुदाय के दर्जनों जनप्रतिनिधियों व बुद्धजीवियों ने अपने अपने विचारों को रखा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *