सीवान/मंथन डेस्क

ज़ेड ए इस्लामिया कॉलेज सीवान के सचिव ज़फर अहमद गनी को जदयू में निरंतर महत्व मिल रहा है.वह कई वर्षों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की राजनीति से जुड़े हुए है.शिक्षाविद के साथ मंझे राजनीतिज्ञ हैं. मुस्लिम राजनीति में उनका अच्छा असर है.उत्तर बिहार जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ अध्यक्ष मोहम्मद जमाल ने उन्हें अपनी टीम में उपाध्यक्ष पद सुपुर्द कर रखा है.सीवान में उन्होंने अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ का ज़बरदस्त सम्मेलन भी कराया.सीवान के मुस्लिम सम्मेलन की चर्चा पूरे बिहार में हुई.इस सम्मेलन को सफल बनाने में ज़फर गनी ने जी तोड़ मेहनत की.

मोहम्मद जमाल ने ज़फर गनी को उपाध्यक्ष पद के साथ गोपालगंज लोकसभा का प्रभारी भी नियुक्त किया है.उनके साथ नजमुल होदा को भी रखा गया है.ज़फर गनी ने कहा कि अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ भी मुख्य पार्टी की तरह काम कर रही है.इसका मुस्लिम समाज पर बेहतर प्रभाव पड़ेगा.जदयू आम अवाम की पार्टी है.जाति से उपर उठ कर समाज के लिए काम करती है.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सांसद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह को राष्ट्रीय कमान सौंप कर देश भर में एक संदेश देने का काम किया है.ललन सिंह के अध्यक्ष बनने से पार्टी न सिर्फ बिहार में मज़बूत होगी बल्कि जदयू को राष्ट्रीय पहचान मिलेगी.ललन बाबु को सांगठनिक कार्य करने का गहरा तजुर्बा है.उनके प्रदेश अध्यक्ष रहते पार्टी काफी मज़बूत हुई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *